Breaking News
Home / अध्यातम / सालो बाद नजर आये रामायण के मुख्य किरदार देखकर पहचान नही पाओगे आप

सालो बाद नजर आये रामायण के मुख्य किरदार देखकर पहचान नही पाओगे आप

रामायण को हम सभी लोग बचपन से किताबो में पढ़ते आ रहे है इसके अलावा अब इसे टीवी पर भी दिखाया जाने लगा है लेकिन पुराने समय में जो रामायण हम सभी को देखने में मिलती थी उसे अब दुबारा नही देखा जा सकता है. आजकल की रामायण में वो मजा कहाँ जो रामानंद सागर की रामायण में देखने को मिलता था. राम और सीता से लेकर सभी किरदार रामायण में हक्कीकत के किरदार लगते थे. इन सभी की सादगी ने हर किसी का मन मोह लिया था. जिस समय टीवी पर रामायण सीरियल आता था उस दौरान कोई और सीरियल देखना लोग पसंद भी नही करते थे. अपना सारा जरुरी काम छोडकर लोग इसे देखने लग जाते थे. वाकई में रामानंद सागर ने जिस तरीके से रामायण को दिखाया था उससे न केवल उन्होंने उसमे काम करने वाले एक्टरों को काम दिया बल्कि उन्हें एक पहचान भी दिलाई है.

आज भी रामायण में अभिनय कर चुके सभी किरदारों को उनके असली नाम की बजाय उनके रोल वाले किरदार के नाम से जाना जाता है. जब भी टीवी सीरियल में रामायण की बात की जाती तो रामानंद की रामायण और उसमे अभिनय कर चुके सभी किरदारों के चेहरे सामने आ जाते है. रामायण खत्म होने के बाद उसके किरदार कहाँ गये इस बारे में कोई नही जानता है आज हम आपको बताएँगे इतने साल बाद आपके चेहते सितारे कैसे दीखते है.

अरुण गोविन्द  – 

रामायण में भगवान राम का किरदार कर चुके गोविन्द को लोग आज भी राम के नाम से ही याद करते है. जब भी रामानन्द सागर की रामायण की चर्चा होती है तो सीधा अरुण गोविन्द का चेहरा हमारी आँखों के सामने आ जाता है. अपने एक इन्टरव्यू के दौरान खुद अरुण गोविन्द ने कहा था कि उनके बच्चे जब स्कुल में थे तो एक बच्चे के पिता का देहांत हो गया था लेकिन वह बच्चा जरा भी उदास नही था. जब बच्चे से उसके उदास न होने की वजह पूछी तो बच्चे ने बड़ी ही मासूमियत के साथ जवाब दिया कि उसके दोस्त के पिता भगवान है और वह उसके पापा को वापिस ला देंगे. अरुण गोविन्द में लोगो को स्वयं राम की छवि दिखाई देती थी. कुछ एक लोग तो उन्हें देखकर हाथ जोड़ना शुरू कर देते थे.

दीपिका चिखलिया 

रामयण में सीता का किरदार निभा चुकी दीपिका की सादगी ने दर्शको के दिलो में अपनी एक ख़ास जगह बनाई है. उनकी जैसी मासूमियत अब तक किसी और सीता में देखने को नही मिली है. दीपिका को रामायण में काम करने के बाद भी लोग सीता ही कहकर पुकारते थे. यहाँ तक कि खुद एक बार दीपिका ने इस बात का जिक्र किया है कि उनसे बड़े बूढ़े लोग भी उनके पास आकर पैर छूने लगते थे शुरुआत में तो दीपिका इससे बहुत डर जाती थी लेकिन बाद में वे समझ गयी कि लोगो के लिए वह ही माता सीता है.

अरविन्द त्रिवेदी – 

रामायण में सबसे जबरदस्त किरदार निभाने वाले अरविन्द त्रिवेदी को बच्चा बच्चा जानता है. उन्होंने रामायण में रावण का किरदार निभाया था. अरविन्द मध्यप्रदेश के रहने वाले है. जब रामायण में रावण का वध हुआ था तो अरविन्द का पूरा गाँव एक दिन तक शोक में डूबा रहा. अरविन्द ने रामानन्द के शो में अपने लिए रोल माँगा तो उन्हें रावण के लिए ही चुना गया.

 

Check Also

अगले दो महीने इन राशियों को झेलना होगा शिवजी का क्रोध, आ सकती हैं मुसीबतें

दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते हैं इस दुनियां में तीन देवता सर्वशक्तिशाली माने जाते …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *