Breaking News
Home / अध्यातम / POK के शारदा पीठ में हुई पूजा अर्चना 72 सालो में पहली बार दर्शन करने पहुंचे भारतीय

POK के शारदा पीठ में हुई पूजा अर्चना 72 सालो में पहली बार दर्शन करने पहुंचे भारतीय

POK में जहाँ हिन्दुस्तानियों को पूजा पाठ करने की सख्त मनाही थी उस POK में पुरे 72 साल बाद हिन्दुओं ने की शारदा पीठ पूजा. ये पूजा करना इतना आसान नही था इसके लिए भारत के मूल निवासी एक दम्पति केपी वेंकटरमन और सुजाता को कई तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ा.  दरअसल भारतीय होने की वजह से पाकिस्तान की तरफ से इस दम्पति को पूजा करने की कोई अनुमति नहीं दी गयी थी. इसके बाद दोनों पति पत्नी नही ट्विटर के जरिये सेव शारदा समिति कश्मीर के फाउंडर रविन्द्र पंडित से सम्पर्क साध कर उनके जरिये सारी जानकारी एकत्रित की.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी भारतीय दम्पति ने एक साथ मिलकर pok में सुरक्षित पहुंचकर पूजा पाठ की है. ये दोनों भारतीय मूल के होन्गकोंग दम्पति है. सुजाता और उनके पति ने बताया कि उन दोनों को शारदा पीठ तक पहुँचने में कई तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ा. उन्होंने बताया कि शारदा पीठ पूरी तरह से खंडहर बन चुका है क्योंकि वहां पर पिछले 72 सालो से कोई नही गया था. दोनों दम्पति ने बताया कि जब उन्होंने पाकिस्तान से शारदा पीठ जाने की अनुमति मांगी तो उन्हें अनुमति नही दी गयी. लेकिन उन्होंने हार नही मानी और पूरी कोशिश की शारदा पीठ तक जाने में. कुछ दिनों तक उनसे कई तरह की पूछताछ की गयी जिसके बाद एन ओ सी जारी की गयी.

इसके बाद 27 सितंबर को एनबीटी ने दोनों दम्पति को शारदा पीठ के बारे में जानकारी दी थी. दम्पति ने बताया कि वे सती माता के सभी शक्तिपीठों के दर्शन कर चुके है. लेकिन उन्हें पाकिस्तान में स्थित शारदा शक्तिपीठ के बारे में कुछ पता नही था. हाल ही में उन्हें इस शक्तिपीठ के बारे में पता चला और उन्होंने यहाँ जाने का मन बना लिया. जब उन्होंने शारदा पीठ के बारे में जानकारी हासिल करने की कोशिश की तो उन्हें पता चला कि इस शक्तिपीठ तक कोई नही जा पाया है. इससे भी ज्यादा हैरानी तो उन्हें तब हुई जब उन्हें ये पता चला कि यहाँ पर आज़ादी के बाद से कोई गया ही नही है. आज़ादी से पहले हिन्दू इस शक्तिपीठ की पूजा करते थे लेकिन आज़ादी के बाद से यहाँ हिन्दुओं का आना बंद हो गया.

दोनों दम्पति 30 सितंबर को शारदा यात्रा के लिए पाकिस्तान के मुजफ्फरपुर पहुंचा. शारदा पीठ तक जाने के लिए इनकी मदद पाक के 2 स्थानीय लोगो ने की है. पुरे जरुरी दस्तावेजों को जमा करवाने के बाद दोनों दम्पति ने 4 अक्तूबर को शारदा पीठ पहुंचकर पूजा की. उन्होंने बताया कि जब हम वहां पहुंचे तो हमने देखा शारदा पीठ पूरी तरह से एक खंडहर बन चुका है. यहाँ तक कि जब वे वहां पर पहुंचे तो देर रात तक बाहर गोलियों की आवाजे भी उन्हें सुनाई दी गयी. शारदापीठ से बाहर सुरक्षित जाने में वहां के 2 स्थानीय लोगो ने उनकी मदद की.

Check Also

मुंबई एयरपोर्ट पर एक साथ दिखाई दिए सनी लियोन, डेनी कंगना रनौत और करिश्मा तन्ना, देखे खुबसूरत तस्वीरे

दोस्तों बॉलीवुड की दुनिया हम सभी लोगो की दुनिया से एक अलग दुनिया है. यहाँ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *